Advertisement

💥सिंगरौली महापौर निर्वाचन 2022 के कुछ अहमुद्दे 💥

💥भाजपा– से प्रत्याशी चंद्रप्रताप विश्वकर्मा- के सकारात्मक पक्ष-

कारात्मक💥
1–प्रचार में संगठन की भरपूर कोशिश
2–दलगत सैद्धांतिक वोट
3–रूठों को मनाने चल रहा प्रयास
4-मुख्यमंत्री की आगामी चुनावी सभा


💥नकारात्मक💥
1–आरक्षित सीट पर OBC को टिकट
2–प्रत्याशी की छवि
3–7 करोड़ की भूमि का खेल
4–ब्राह्मण,ब्यापारी,साहू समाज के वोटों का मोहभंग
5–नगर निगम अध्यक्ष रहते प्रत्याशी के कार्य
6–स्टेडियम के सामने सरकारी स्कूल की भूमि पर कब्जा

💥कांग्रेस–अरविंद सिंह–सकारात्मक💥
1–कांग्रेस संगठन का एकजुट होना
2–कांग्रेस समर्थित वोट
3–जातिगत आधार
4–पूर्व विधानसभा चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी होकर मिले वोट
💥नकारात्मक💥


1– पूर्व में हुए कई चुनाव में प्रत्याशी का इतिहास
2–कांग्रेस पार्टी से टिकट न मिलने पर हरबार विरोध
3–निर्दलीय प्रत्याशी बनने से विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी को मिली हार
4–स्वभाव

💥आप–रानी अग्रवाल–सकारात्मक💥
1–प्रत्याशी की लोकप्रियता
2–भाजपा द्वारा सही प्रत्याशी घोषित न करने की वजह से वेटेज
3–बुद्धिजीवी वर्ग सहित आम जनता का समर्थन
4–भाजपा/कांग्रेस से भितरघात कर समर्थन में आये कई नेता
5–प्रत्याशी का विधानसभा चुनाव में परफॉर्मेंस
6–प्रत्याशी की सामाजिक छवि


💥नकारात्मक💥
1–पारिवारिक कलह
2–ब्राह्मण समाज बरगवां द्वारा किया गया बहिष्कार
3–भूमि संबंधित मामलों में कईयों के साथ फर्जीवाड़ा
4–आप पार्टी में भी भितरघात
5–प्रत्याशी की अस्थायी शारीरिक अक्षमता

💥बसपा–बंशरूप साह–सकारात्मक💥
1–साहू समाज के वोट बैंक
2–सबसे धनी प्रत्याशी
3–बसपा के कैडर वोट
4–स्थानीय समर्थन

💥नकारात्मक💥
1–बसपा की स्थिति
2-स्टार प्रचारको की कमी
3–मैनेजमेंट
4–राजनीतिक अनुभव की कमी

उपरोक्त जानकारी का सिंगरौली एक्सप्रेस किसी भी प्रकार की पुष्टि नहीं करता है यह सोशल मीडिया से उठाई गई जानकारी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

YouTube
Instagram
WhatsApp