Advertisement

सड़क हादसे में श्रद्धालुओं के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री माननीय भूपेश बघेल

मुख्यमंत्री निवास पर रामदेवरा मेले में भाग लेने के लिए आ रहे पैदलयात्रियों की सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में महत्वपूर्ण बैठक ली। पाली में रोहट के पास हुए सड़क हादसे में श्रद्धालुओं के निधन पर मेरी गहरी संवेदनाएं, पैदलयात्रियों की सुरक्षा हेतु प्रशासन सभी आवश्यक कदम उठाए ताकि इस तरह की दुखद घटनाओं की रोकथाम हो सके। रामदेवरा मेले में आ रहे पैदल यात्रियों के लिए जहां संभव हो कॉरिडोर बनाकर उनकी पालना सुनिश्चित कराई जाए। जिन जिलों से पैदलयात्री गुजर रहे हैं वहां जिला कलक्टर उच्च अधिकारियों के साथ नियमित बैठक कर सभी तरह की पुख्ता व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें।

मुख्यमंत्री जी ने कहा श्रद्धालुओं को किसी भी प्रकार की असुविधा नहीं होनी चाहिए

जहां आवश्यक हो ओवरस्पीडिंग पर काबू पाने के लिए सड़कों पर अस्थाई स्पीड ब्रेकर बनाए जाएं तथा स्पीड-लिमिट के साइनबोर्ड भी लगाए जाएं। यात्रा के दौरान किसी भी आपात स्थिति में त्वरित कार्रवाई के लिए महत्वपूर्ण बिंदुओं पर एम्बुलेंस की पुख्ता व्यवस्था हो। थोड़ी-थोड़ी दूरी पर सहायता कैम्प्स के माध्यम से प्रशासन द्वारा सुरक्षित पैदल यात्रा हेतु श्रद्धालुओं के लिए लाउड स्पीकर पर आवश्यक सावधानियों का प्रचार किया जाए। अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि पैदलयात्रियों के शिविर सड़क के किनारे से पर्याप्त दूरी पर बनाए जाएं। अधिकारियों को पैदलयात्रा के मार्गों पर ओवरलोड वाहनों पर भी निगरानी रखने के निर्देश दिए।

माननीय मुख्यमंत्री जी ने रोड पर लगे ब्रेकरो के लिए क्या कहा

श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की असुविधा ना हो इसके लिए प्रशासन पूरी तरह से चाक-चौबंद रहे। अधिक आवाजाही वाले जिलों में प्रशासन द्वारा विशेष अभियान चलाकर शराब पीकर गाड़ी चलाने वाले तथा ओवरस्पीडिंग करने वाले वाहन चालकों पर कार्रवाई की जाए। इसके लिए आवश्यकतानुसार मोबाइल यूनिट व नाकों की स्थापना की जाए। पैदलयात्रियों को अधिक से अधिक रेडियम टेप व रिबन का वितरण किया जाए, जिन्हें बैग पर चिपकाकर या हाथ में पहनकर रात में चलते समय हादसों से बचा जा सके।

छत्तीसगढ़ प्रशासन का क्या कहना है

प्रशासन द्वारा हाल ही में कावड़ यात्राओं का शानदार प्रबंधन किया गया है, जिससे बिना किसी अप्रिय घटना के कावड़ यात्राओं का आयोजन संपन्न हुआ। अधिकारियों से कहा कि यह त्यौहारों और मेलों का समय है। रामदेवरा मेले में प्रदेशभर तथा पड़ोसी राज्यों से बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते हैं। पिछले दो साल कोविड महामारी की वजह से मेले का आयोजन स्थगित रहने के कारण इस वर्ष श्रद्धालु सामान्य से अधिक संख्या में आ रहे हैं। अतः प्रशासन का कर्तव्य है कि कावड़ यात्राओं के समान ही रामदेवरा मेले का भी सुरक्षित एवं व्यवस्थापूर्वक आयोजन करवाया जाए।

बैठक में कौन कौन मंत्री उपस्थित रहे

बैठक में सार्वजनिक निर्माण मंत्री श्री भजनलाल जाटव, परिवहन राज्य मंत्री श्री बृजेन्द्र ओला, मुख्य सचिव श्रीमती उषा शर्मा, महानिदेशक पुलिस श्री मोहन लाल लाठर, अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह श्री अभय कुमार, महानिदेशक पुलिस इंटेलिजेंस श्री उमेश मिश्रा, एडीजी ट्रैफिक श्री विजय कुमार, एडीजी लॉ एंड ऑडर श्री हवा सिंह घुमरिया, एडीजी सिक्योरिटी श्री एस सेंगथिर सहित अन्य उच्चाधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

YouTube
Instagram
WhatsApp